केशुभाई ने अपना जीवन गुजरात की प्रगति के लिए समर्पित किया : मोदी

केशुभाई ने अपना जीवन गुजरात की प्रगति के लिए समर्पित किया : मोदी

नई दिल्ली, | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल के निधन पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए उन्हें एक ऐसा ‘उत्कृष्ट नेता’ कहा, जिन्होंने अपना जीवन गुजरात की प्रगति के लिए समर्पित कर दिया। मोदी ने ट्वीट कर कहा, “हमारे प्यारे और सम्मानित केशुभाई अब नहीं रहे। मुझे इससे गहरा दुख हुआ है। वो एक उत्कृष्ट नेता थे, जो समाज के हर वर्ग का खयाल रखते थे। उनका जीवन गुजरात और हर गुजराती के विकास को समर्पित रहा।”

प्रधानमंत्री ने केशुभाई के जनसंघ और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को मजबूत करने में योगदान और उनकी लंबी राजनीतिक यात्रा को भी याद किया।

प्रधानमंत्री ने आगे कहा, “केशुभाई ने जनसंघ और भाजपा को मजबूत करने के लिए गुजरात में कई यात्राएं की। उन्होंने आपातकाल का विरोध किया। किसान कल्याण के मुद्दे उनके दिल के सबसे करीब थे। विधायक, सांसद, मंत्री या मुख्यमंत्री के रूप में उन्होंने सुनिश्चित किया कि किसान हितैषी उपाय पारित किए जाएं।”

प्रधानमंत्री मोदी ने एक अन्य ट्वीट में लिखा, “केशुभाई ने मेरे सहित कई युवा कार्यकर्ताओं का मार्गदर्शन किया। सभी को उनका मिलनसार स्वभाव प्रिय था। उनका निधन एक अपूरणीय क्षति है। हम सब आज शोकमग्न हैं। मेरी संवेदनाएं उनके परिवार और शुभचिंतकों के साथ हैं। मैंने उनके बेटे भरत से बात की और दुख प्रकट किया। ओम शांति।”

वयोवृद्ध भाजपा नेता केशुभाई पटेल का गुरुवार सुबह 92 वर्ष की आयु में निधन हो गया। उनका अहमदाबाद के एक अस्पताल में इलाज चल रहा था।

गुरुवार सुबह सांस लेने में कठिनाई की शिकायत के बाद भाजपा नेता को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इलाज के दौरान ही उन्होंने अंतिम सांस ली।

पटेल दो बार गुजरात के मुख्यमंत्री रह चुके थे। वह 1995 में और 1998 से 2001 तक गुजरात के मुख्यमंत्री रहे। छह बार विधायक भी रहे। वर्ष 2001 में उनके बाद ही नरेंद्र मोदी ने पहली बार गुजरात के मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली थी।

English Website