कुम्भ मेले में होगी क्राउड मैनेजमेंट की बेहतर व्यवस्थाएं

कुम्भ मेले में होगी क्राउड मैनेजमेंट की बेहतर व्यवस्थाएं

नई दिल्ली, | कुम्भ मेला कोविड के ²ष्टिगत चुनौतिपूर्ण है। कुम्भ के पहले शाही स्नान महाशिवरात्रि के दिन लाखों लोग हरिद्वार पहुंचे थे। प्रशासन के मुताबिक आगे के महत्वपूर्ण स्नानों में श्रद्धालुओं की संख्या और अधिक बढ़ेगी। इसके लिए अब कुम्भ में क्राउड मैनेजमेंट की व्यवस्थाएं की जाएगी। कुम्भ मे क्राउड मैनेजमेंट की व्यवस्थाओं के लिए अधिक फोर्स की तैनाती का प्रस्ताव भी तैयार किया जा रहा है। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने पुलिस विभाग के उच्चाधिकारियों के साथ इस विषय पर एक महत्वपूर्ण बैठक की है।

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा कि बेहतर कानून व्यवस्था राज्य सरकार की प्राथमिकता है। पुलिस विभाग के लिए आने वाले समय में कुम्भ, चारधाम यात्रा एवं कोविड के ²ष्टिगत चुनौतिपूर्ण है। उन्होंने कहा कि कुम्भ और चारधाम यात्रा की सफलता के लिए सभी तैयारियां समय से पूर्ण कर ली जाएं। उन्होंने कहा कि कुम्भ का पहला स्नान बहुत ही सफल रहा है। आगे के महत्वपूर्ण स्नानों में श्रद्धालुओं की संख्या और अधिक बढ़ेगी।

उन्होंने कहा कि इसके लिए समय से व्यवस्थाएं पूर्ण कर ली जाएं। कुम्भ में क्राउड मैनेजमेंट की पूरी तैयारी सुनिश्चित कर ली जाए। यदि और अधिक फोर्स की आवश्यकता हो तो इसके लिए प्रस्ताव तैयार किया जाए। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश योगी आदित्यनाथ ने भी कुम्भ हेतु और फोर्स उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया है।

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा कि कुम्भ, चारधाम यात्रा एवं कोविड के ²ष्टिगत विभाग में वाहनों की संख्या बढ़ाए जाने की आवश्यकता है। उन्होंने छोटे पर्वतीय शहरों में भी सीसीटीवी सुविधाओं के विकास पर जोर देते हुए कहा कि विभाग को समय की आवश्यकताओं के देखते हुए लगातार विभाग के आधुनिकीकरण पर ध्यान देने की आवश्यकता है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कोरोना संक्रमण के प्रभावी नियंत्रण के लिए सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बुधवार को हुई वीडियो कांफ्रेंसिग की। बैठक में तीरथ सिंह रावत भी शामिल हुए। उक्त वीडियो कांफ्रेंसिग के बाद सचिवालय में आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि कोविड पर प्रभावी नियंत्रण के लिए जन जागरूकता पर विशेष ध्यान दिया जाय।

English Website