आईपीएल : स्टोक्स की बल्ले से विफलता राजस्थान की गेंदबाजी पर डाल रही है असर

आईपीएल : स्टोक्स की बल्ले से विफलता राजस्थान की गेंदबाजी पर डाल रही है असर

नई दिल्ली, | बेन स्टोक्स की आईपीएल-13 में बल्ले से विफलता राजस्थान रॉयल्स को कई तरह से नुकसान पहुंचा रही है। वह शीर्ष क्रम में विफल हो रहे हैं और साथ ही साथ उनकी मौजूदगी टीम में एक विदेशी खिलाड़ी की जगह भी रोक रही है, जिसे टीम में गेंदबाजी मजबूत करने के लिए जोफ्रा आर्चर के साथ लाया जा सकता है।

आईपीएल में टीम अंतिम-11 में सिर्फ चार विदेशी खिलाड़ियों की ही खेला सकती हैं। कप्तान स्टीव स्मिथ, जोस बटलर और राजस्थान के लिए सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज आर्चर का स्थान टीम में अपने आप बनता है। इन लोंगो के बाद एक ही विदेशी खिलाड़ी की जगह खाली रह जाती है।

स्टोक्स अगर बल्ले और गेंद से अच्छा करते तो उनकी जगह भी अपने आप बनती है। वह ज्यादा गेंदबाजी भी नहीं कर रहे है। उनहोंने अभी तक आठ ओवर फेंके हैं और एक भी विकेट नहीं निकाल पाए हैं। बल्ले से उन्होंने पांच मैचों में सिर्फ 110 रन बनाए हैं। इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 106.79 का रहा है।

स्टोक्स को इस सीजन बतौर सलामी बल्लेबाज उतारा गया है लेकिन अपनी पावर हिटिंग के लिए मशहूर स्टोक्स पावरप्ले का भी ज्यादा इस्तेमाल नहीं कर पाए हैं।

कॉमेंटेटरों के बीच इस तरह की चर्चा है कि स्टोक्स को मध्य क्रम में ला जोस बटलर से पारी की शुरुआत कराना चाहिए। उनके आने से पहले बटलर यही कर रहे थे।

बटलर के आने से पहले उनके हमवतन टॉम कुरैन टीम में थे। गेंद से हालांकि वह खर्चिले साबित हुए थे, लेकिन बल्ले से उन्होंने पांच मैचों की तीन पारियों में एक अर्धशतक जमाया था।

गेंदबाजी में टीम के पास एक और विकल्प एंड्रयू टाई हैं। वह अभी तक सिर्फ एक मैच खेले हैं। दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ खेले गए मैच में टाई ने चार ओवरों में 50 रन दिए थे।

वेस्टइंडीज के तेज गेंदबाज ओशाने थॉमस ने इस सीजन अभी तक एक भी मैच नहीं खेला है।

English Website