सेंसेक्स 504 अंक चढ़कर 40261 पर बंद, निफ्टी में 144 अंकों की बढ़त

सेंसेक्स 504 अंक चढ़कर 40261 पर बंद, निफ्टी में 144 अंकों की बढ़त

मुंबई, | अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के नतीजे आने से पहले मंगलवार को मजबूत विदेशी संकेतों से भारतीय शेयर बाजार गुलजार रहा। जोरदार लिवाली से सेंसेक्स बीते सत्र से 503.55 अंकों यानी 1.27 फीसदी की तेजी के साथ 40,261.13 पर बंद हुआ और निफ्टी भी बीते सत्र से 144.35 अंकों यानी 1.24 फीसदी की बढ़त के साथ 11,813.50 पर बंद हुआ। वित्तीय और बैंकिंग सेक्टरों के शेयरों में जबरदस्त लिवाली रही। इससे पहले, बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के 30 शेयरों पर आधारित प्रमुख संवेदी सूचकांक सेंसेक्स पिछले सत्र से 233.17 अंकों की तेजी के साथ 39,990.75 पर खुला और दिनभर के कारोबार के दौरान 40,354.73 तक उछला, जबकि सेंसेक्स का निचला स्तर 39,952.79 रहा।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के 50 शेयरों पर आधारित प्रमुख संवेदी सूचकांक निफ्टी भी बीते सत्र से 65.30 अंकों की बढ़त के साथ रहा।

बीएसई मिडकैप सूचकांक बीते सत्र से 62.30 अंकों यानी तेजी के साथ 14,834.27 पर बंद हुआ।

सेंसेक्स के 30 शेयरों में से 21 शेयरों में तेजी रही, जबकि नौ शेयर गिरावट के साथ बंद हुए। सेंसेक्स के सबसे ज्यादा तेजी वाले पांच शेयरों में आईसीआईसीआई बैंक (6.51 फीसदी), एसबीआईएन (4.46 फीसदी), एचडीएफसी (4.32 फीसदी), पावरग्रिड (4.02 फीसदी) और सनफार्मा (3.39 फीसदी) शामिल रहे।

सेंसेक्स के सबसे ज्यादा गिरावट वाले पांच शेयरों में एनटीपीसी (3.75 फीसदी), रिलायंस (1.48 फीसदी), नेस्ले इंडिया (1.08 फीसदी), एचसीएलटेक (1.02 फीसदी) और इन्फोसिस (0.94 फीसदी) शामिल रहे।

बीएसई के 19 सेक्टरों में 12 सेक्टरों में तेजी रही, जबकि सात सेक्टरों में गिरावट दर्ज की गई। बीएसई के सबसे ज्यादा तेजी वाले पांच सेक्टरों के सूचकांकों में बैंक इंडेक्स (3.21 फीसदी), वित्त (2.92 फीसदी), धातु (2.07 फीसदी), कंज्यूमर डयूरेबल्स (1.27 फीसदी) और हेल्थकेयर (1.22 फीसदी) शामिल रहे।

बीएसई के सबसे ज्यादा गिरावट वाले पांच सेक्टरों में रियल्टी (2.25 फीसदी), ऊर्जा (1.11 फीसदी), टेलीकॉम (0.50 फीसदी), टेक (0.22 फीसदी) और तेल व गैस (0.14 फीसदी) शामिल रहे। अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव के लिए तीन नवंबर को मतदान होने जा रहा है।

English Website